जैविक खेती से होगा समर्थ भारत का निर्माण: विकल

khoob singh vikal 06
बघौरा गांव में जैविक खेती को लेकर आयोजित हुआ एकल अभियान का वर्ग

सितारगंज। एकल अभियान गतिविधि विभाग के तत्वावधान में सितारगंज संच का ग्राम प्रमुख वर्ग का आयोजन हुआ। जिसमें रसायनिक खादों के दुष्प्रभावों की जानकारी देते हुए जैविक खादों के उपयोग का आवाहन किया गया। ग्राम स्वराज मंच के खूब सिंह ‘विकल’ ने बतौर मुख्य वक्ता कहा कि जैविक खादों के प्रयोग से समर्थ भारत का निर्माण होगा।
बृहस्पतिवार को एकल अभियान के गतिविधि विभाग के तत्वावधान में सितारगंज संच का ग्राम ​प्रमुख वर्ग का आयोजन हुआ। मुख्य वक्ता ग्राम स्वराज मंच के खूब सिंह ‘विकल’, मुख्य अतिथि भाजपा नेता गुरूदीप सिंह चौहान, संच समिति अध्यक्ष लाल सिंह दायमा, उपाध्यक्ष लक्ष्मण सिंह राणा ने संयुक्त रूप से भगवान श्रीराम परिवार व भारत भारत माता के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारम्भ किया। मुख्य वक्ता खूब सिंह ‘विकल’ ने कहा कि फसलों में रसायनिक खादों और कीटनाशक दवाओं के अंधाधुंध प्रयोग से मानव ​जाति के भविष्य पर खतरा उत्पन्न हो गया है। देश की युवा पीढ़ी शारारिक और मानसिक रूप से कमजोर होती जा रही है। सदैव जीवन देने वाली धरती मां आज बंजर होती जा रही है। इससे देश पिछड़ रहा है। लिहाजा आज हमें खुद को और अपने परिवारों को बचाने के लिए जैविक खेती को अपनाना होगा। जब देश की युवा पीढ़ी शारारिक और मान​सिक रूप से स्वस्थ होगी तभी समर्थ भारत का निर्माण हो सकेगा। मुख्य अतिथि गुरदीप सिंह चौहान ने रसायनिक खादों के प्रयोग से होने वाले नुकसान गिनाएं तो लक्ष्मण सिंह राणा ने जैविक खेती के लाभ बताएं।
khoob singh vikal 04वर्ग में दीप मंत्र, ब्रहानाद, गायत्री मंत्र के राम स्तुति का सस्वर पाठ किया गया। उप संभाग गतिधिवि प्रमुख कुलवीर सिंह ने वर्ग की भूमिका, बहन बबीता ने एकल गीत गया। वर्ग में जैविक खाद एवं जैविक कीटनाशक दवाओं के तहत जैविक पिट, सोखता गड्डा, कीट नियंत्रक को लेकर विस्तृत जानकारी देते हुए किसानों को इन्हें तैयार करने की प्रयोगात्मक विधि भी समझाई। संपूर्ण कार्यक्रम का सफल संचालन अचंल गतिविधि प्रमुख अरविन्द कुमार ने किया।
इस मौके पर अंचल जिला संगठन मंत्री रामेश्चरी राणा, अचंल गतिविधि प्रमुख अरविन्द कुमार प्राथमिक शिक्षा प्रशिक्षण प्रमुख फाल्गुनी सरकार, सत्संग साधक प्रमुख बबीता, कार्यालय प्रमुख सूरज राणा, जुली राणा, किरन राणा, मंगेश्वरी राणा, सपना, नीतू राणा, कुसमा, सीमा राना, सीमा दसौनी, सुरूचि राणा, मोनिका दिगारी, रानी, निकिता राणा समेत तमाम किसान बंधु भी उपस्थित रहे।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *