सुरेश प्रभु ने मोबाइल एप ‘रीयूनाईट’ लांच किया

श्री सुरेश प्रभु खोए हुए बच्चों का पता लगाने के लिए ‘रीयूनाईट’ एप लांच करते हुए
श्री सुरेश प्रभु खोए हुए बच्चों का पता लगाने के लिए ‘रीयूनाईट’ एप लांच करते हुए
नई दिल्ली। केंद्रीय वाणिज्य व उद्योग तथा नागरिक उड्डयन मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने एक मोबाइल एप लांच किया। इस एप का नाम ‘रीयूनाईट’ है। यह एप भारत में खोए हुए बच्चों का पता लगाने में सहायता प्रदान करेगा। इस अवसर पर अपने संबोधन में मंत्री महोदय ने इस एप को विकसित करने के लिए स्वयंसेवी संगठन ‘बचपन बचाओ आंदोलन’ और ‘कैपजेमिनी’ की सराहना की।

मंत्री महोदय ने कहा कि खोए हुए बच्चों को उनके मातापिता से मिलाने का यह प्रयास, तकनीक के सुंदर उपयोग को दर्शाता है। यह एप जीवन से जुड़ी सामाजिक चुनौतियों से निपटने में मदद करेगा।

इस एप के माध्यम से मातापिता बच्चों की तश्वीरें, बच्चों के विवरण जैसे नाम, पता, जन्म चिन्ह आदि अपलोड कर सकते हैं, पुलिस स्टेशन को रिपोर्ट कर सकते हैं तथा खोए बच्चों की पहचान कर सकते हैं। खोए हुए बच्चों की पहचान करने के लिए एमेजनरिकोगनिशन, वेब आधारित फेशियल रिगोगनिशन जैसी सेवाओं का उपयोग किया जा रहा है। यह एप एंड्राएड और आईओएस दोनों ही प्लेटफार्म पर उपलब्ध है।

बच्चों की सुरक्षा के संदर्भ में बचपन बचाओ आंदोलन (बीबीए) भारत का सबसे बड़ा आंदोलन है। बीबीए ने बच्चों के अधिकारों के संरक्षण से संबंधित कानून निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। यह आंदोलन 2006 के निठारी मामले से शुरू हुआ है। इस अवसर पर नोबल पुरस्कार विजेता और बचपन बचाओ आंदोलन के संस्थापक श्री कैलाश सत्यार्थी भी उपस्थित थे। यदि आप चाहते हैं कि देश—दुनिया की छोटी—बड़ी हर खबर से अपडेट रहें तो आज ही हिन्दी साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‪#‎आधुनिकदुनिया‬’ के पेज के लिंक पर जाकर पेज को like (लाइक) करें और खुद को रखें अपडेट।
https://www.facebook.com/pages/Adhunik-Duniya/1412838905648698
खबरों के लिए यह भी देखें=
www.adhunikduniya.in
www.adhunikduniya.blogspot.com

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *