भारतीय सेना की ‘सफल’ जबावी कार्यवाही: पाक अधिकृत कश्मीर मे आठ आतंकी शिविर ध्वस्त किये: कई आतंकी ढेर

भारतीय सेना की 'सफल' जबावी कार्यवाही: पाक अधिकृत कश्मीर मे आठ आतंकी शिविर ध्वस्त किये: कई आतंकी ढेर
भारतीय सेना की ‘सफल’ जबावी कार्यवाही: पाक अधिकृत कश्मीर मे आठ आतंकी शिविर ध्वस्त किये: कई आतंकी ढेर

नई दिल्ली,29 सितंबर। सीमा पार के निरंतर आतंक और आतंकी घुसपैठ के जबाव में भारतीय सेना ने कल रात सफल जबावी कार्यवाही में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में ‘आठ आतंकी शिविरों’ पर हमले कर उन्हें धवस्त कर दिया। बताया जा रहा है ये आतंकी भारत की सीमा में घुस कर भारत में आतंक फैलाने की साजिश कर रहे थे। इन हमलो में बड़ी तादाद मे आतंकी मारे गये, साथ ही उन्हें भारतीय सीमा में घुसाने वाले पाकिस्तानी सैनिक भी ढेर हो गये।
भारतीय सेना के अनुसार, इस जवाबी कार्रवाई में अनेक आतंकी मारे गए हैं, जबकि कोई भी भारतीय सैनिक इस कार्यवाही में शहीद नही हुआ। यह जानकारी भारतीय सेना और विदेश मंत्रालय के साझा प्रेस कान्फ्रेंस में आज मीडिया को दी गयी। इस प्रेस कान्फ्रेंस को डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह व विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने संबोधित किया। इस प्रेस कान्फ्रेंस में कहा गया कि भारत ने पाकिस्तान की सेना के साथ इस सर्जिकल हमले की जानकारी साझा की। साथ ही आतंक के खिलाफ लड़ाई में उनसे सहयोग की उम्मीद जतायी।
डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने कहा कि घुसपैठ में तेजी आयी है और आतंकवादियों को हम नियंत्रण रेखा पर सक्रिय होने की इजाजत नहीं दे सकते। उन्होंनेे कहा कि हमने आतंकियों के लांचिंग पैड पर हमला किया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से बार-बार आग्रह किया कि वह अपनी भूमि का आतंकवाद के लिए प्रयोग नहीं होने देने के 2004 के अपने वायदे को पूराकरे, लेकिन हमारे आग्रह का कोई असर नहीं हुआ। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने इन हमलो को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए स्वीकार किया कि इन हमलों में दो पाकिस्तानी जवान मारे गये हैं।
रक्षामंत्रालय व विदेश मंत्रालय की यह प्रेस कान्फ्रेंस आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति की अहम बैठक के बाद आयोजित की गयी। इस बैठक में मोदी सरकार के वरिष्ठ मंत्री व अफसर शामिल हुए। बैठक में गृहमंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, वित्तमंत्री अरुण जेटली, रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर, सेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग, एनएसए अजीत डोभाल शामिल हुए। इस बैठक में पाकिस्तान के साथ रिश्तों की समीक्षा की गयी और आगे की रणनीति तय की गयी। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज पाकिस्तान को मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा दिये जाने की समीक्षा संबंधी बैठक टल गयी है। यह बैठक अब अगले सप्ताह होगी।  यदि आप चाहते हैं कि देश—दुनिया की छोटी—बड़ी हर खबर से अपडेट रहें तो आज ही हिन्दी साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‪#‎आधुनिकदुनिया‬’ के पेज के लिंक पर जाकर पेज को like (लाइक) करें और खुद को रखें अपडेट।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *