बैठक का औचित्य तभी जब निराकरण हो: आशीष भटगई

एकल खिड़की सुगमता की बैठक में एडीएम आशीष भटगई
एकल खिड़की सुगमता की बैठक में एडीएम आशीष भटगई

रुद्रपुर, 20 अप्रैल। एकल खिडकी सुगमता और अनुज्ञापन की बैठक जिला उद्योग केन्द्र सभागार में अपर जिलाधिकारी आशीष भटगई की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई । अपर जिलाधिकारी ने कहा कि बैठकों का औचित्य तभी है जब समय पर उद्यमियों की समस्याओं का निराकण हो। उन्होंने कहा कि एकल खिड़की सुगमता के अन्तर्गत जो उद्यमी नये विद्युत कनेक्शन लेने, अधिभार बढाने, प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेने, अग्निशमन अधिकारी द्वारा अग्निशमन अनापत्ति दिये जाने हेतु आनलाईन आवेदन करता है, तो आवेदनकर्ता को कार्य के पूर्ण होने अथवा अपूर्ण रहने की जानकारी कारण सहित आनलाईन प्रेषित की जाय ताकि उसे अपने आवेदन के विषय पर की जा रही कार्यवाही का पता चल सके। उन्होंने कहा कि अधिकारियों/कर्मचारियों व उद्यमियों को एकल खिडकी व्यवस्था के आनलाईन क्रियान्वयन की जानकारी देने के लिए कार्यशाला का आयोजन किया जाय।

          आज एकल खिडकी के अन्तर्गत 18 मामले नये विद्युत कनेक्शन, 12 मामले प्रदूषण नियन्त्रण बोर्ड द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र दिये जाने व तीन मामले अग्निषमन अनापत्ति दिये जाने के आये। एडीएम ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि जिन उद्यमियों द्वारा नये विद्युत कनेक्शन चाहने हेतु धनराशि जमा कर दी गई है उन्हें 15 दिन के भीतर कनेक्शन दे दिये जायें।
बैठक में प्रभारी महा प्रबन्धक उद्योग वाईसी पाण्डे, डीसीएमओ एसएस दुग्ताल, क्षेत्रीय प्रबन्धक सिडकुल गौरव चटवाल, सहायक पर्यावरण अधिकारी राकेश भण्डारी, सहायक श्रमायुक्त अनिल कुमार यादव, ईई विद्युत बीके पांडे, जिला पर्यटन अधिकारी केएस रावत, जिला खादी ग्रामोद्योग अधिकारी बीसी बुधानी आदि उपस्थित थे। यदि आप चाहते हैं कि देश—दुनिया की छोटी—बड़ी हर खबर से अपडेट रहें तो आज ही हिन्दी साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‪#‎आधुनिकदुनिया‬’ के पेज के लिंक पर जाकर पेज को like (लाइक) करें और खुद को रखें अपडेट।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *